1678346

Hariyali amavasya 2023: हरियाली अमावस्या पर कौनसे पौधे लगाना चाहिए?

Photo of author

By jeenmediaa


Hariyali amavasya me podha ropan 2023 : 17 जुलाई 2023 सोमवार को श्रावण मास की अमावस्या है जिसे हरियाली अमावस्या कहते हैं। सोमवार को आने के कारण इसे सोमवती अमावस्या भी कहा जाएगा। हरियाली अमावस्या पर पौधा रोपण करके उसकी पूरे सावन माह देखभाल करना बहुत ही पुण्‍यदायक कर्म माना जाता है। आओ जानते हैं कि हम कौन कौनसे पौधों का रोपण कर सकते हैं।

 

हरियाली अमावस्या पर कौनसे पौधे लगाना चाहिए?

  1. कैथ का पौधा लगाएं। पौष्टिकता के साथ-साथ कैथ औषधीय दृष्टि से भी बहुत फायदेमंद होता है।
  2. नीम का पौधा लगाना बहुत ही शुभ है। इससे मंगल के सभी दोष दूर हो जाते हैं। जीवन में मंगल ही मंगल होता रहता है।
  3. बेल यानी बिल्व पत्र का पौधा लगाना बहुत ही शुभ माना जाता है। माना जाता है कि यदि आपने बिल्वपत्र के पेड़ को घर के आसपास लगा लिया तो आपको कई तरह के फायदे होंगे। बिल्वपत्र के वृक्ष को श्रीवृक्ष के नाम से भी जाना जाता है। इसके घर के पास होने से धन-समृद्धि के योग बनते हैं।
  4. कहीं पर भी पीपल का पौधा लगाएं। इससे बृहस्पति का दोष दूर होकर सभी तरह के संकट मिट जाता हैं और जातक लंबी आयु प्राप्त करता है।
  5. इमली का मौधा लगाना भी बहुत शुभ माना गया है। इमली के कई औषधीय गुण होते हैं। जैसे इसका उपयोग घाव भरने, सूजन, बुखार, नेत्र से जुड़ी बीमारी, मलेरिया, कब्ज, पेट से जुड़ी बीमारियों, पेचिश और कृमि, मधुमेह, गठिया आदि में होता है।
  6. इसके अलावा, केला, आंवला, कदंब, नींबू, तुलसी, बरगद और आम का वृक्ष भी लगा सकते हैं जिसके कई फायदे हैं। 

कौनसा पौधा लगाने से क्या होगा?

  1. पीपल, नीम, बेल, नागकेशर, गु़ड़हल और अश्वगंधा (संतान प्राप्ति)
  2. ब्राह्मी, पलाश, अर्जुन, आंवला, सूरजमुखी, तुलसी (आरोग्य)
  3. अशोक, अर्जुन, नारियल और वट वृक्ष (ऐश्वर्य और सौभाग्य)
  4. आंकड़ा, शंखपुष्पी, पलाश, ब्राह्मी और तुलसी (बुद्धि)
  5. नीम, कदंब और घने छायादार वृक्ष (सुख प्राप्ति)
  6. हरसिंगार/ पारिजात, रातरानी, मोगरा, गुलाब (आनंद)
  7. तुलसी, आंवला, केला, बेल का वृक्ष (लक्ष्मी प्राप्ति के लिए)।

 

हरियाली अमावस्या के दिन पौधा रोपण या वृक्षारोपण का बहुत महत्व है। वृक्ष रोपण करने ग्रह नक्षत्र और पितृदोष शांत हो जाते हैं। पेड़-पौधे हमारी आस्था के साथ ही हमारे जीवन शक्ति से भी जुड़े हुए हैं। मान्यतानुसार अलग-अलग पेड़-पौधों में विभिन्न देवताओं का भी वास माना गया है। अत: श्रावणी या हरियाली अमावस्या के दिन उपरोक्त पौधारोपण करके उनकी नियमित देखभाल करने से हर दिशा से अपार धन प्राप्ति कर सकते हैं।


Leave a Comment