सेंसेक्स और निफ्टी नए रिकॉर्ड स्तर पर, बाजार में लगातार तीसरे दिन तेजी

Photo of author

By jeenmediaa


Share Market Update : स्थानीय शेयर बाजारों में तेजी का सिलसिला सोमवार को लगातार तीसरे कारोबारी सत्र में भी जारी रहा और बीएसई सेंसेक्स 529 अंक की छलांग के साथ एक बार फिर नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी अपने अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया।

 

तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 529.03 अंक यानी 0.80 प्रतिशत की तेजी के साथ 66,589.93 अंक पर बंद हुआ। यह इसका अब तक का सर्वकालिक उच्च स्तर है। कारोबार के दौरान सेंसेक्स 595.31 अंक यानी 0.90 प्रतिशत की बढ़त के साथ रिकॉर्ड 66,656.20 अंक तक चला गया था।

 

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 146.95 अंक यानी 0.75 प्रतिशत की बढ़त के साथ अब तक के उच्चतम स्तर 19,711.45 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 167.35 अंक उछलकर रिकॉर्ड 19,731.85 अंक तक चला गया था। सेंसेक्स के शेयरों में भारतीय स्टेट बैंक, विप्रो, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक और इंडसइंड बैंक प्रमुख रूप से लाभ में रहे।

 

एचडीएफसी बैंक के वित्तीय परिणाम की घोषणा के बाद उसका शेयर दो प्रतिशत मजबूत हुआ। बैंक का एकीकृत शुद्ध लाभ जून तिमाही में 29.13 प्रतिशत बढ़कर 12,370.38 करोड़ रुपए रहा। नुकसान में रहने वाले शेयरों में टाटा मोटर्स, भारती एयरटेल, टाइटन और जेएसडब्ल्यू स्टील शामिल हैं।

 

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, चीन में अनुमान से कम वृद्धि दर के कारण एशियाई बाजारों में मिलेजुले रुख के बीच घरेलू बाजार ने मजबूती दिखाई। इसका कारण कंपनियों के पहली तिमाही के वित्तीय परिणाम बेहतर रहने की उम्मीद है।

 

चीन की अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर अप्रैल-जून की दूसरी तिमाही में उम्मीद से कम यानी 6.3 प्रतिशत रही। विश्लेषकों का अनुमान था कि पिछले साल की समान अवधि में वृद्धि की सुस्त रफ्तार की वजह से चालू अप्रैल-जून तिमाही में चीन की अर्थव्यवस्था अधिक तेजी से बढ़ेगी।

 

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक शुद्ध लिवाल बने हुए हैं। उन्होंने शुक्रवार को 2,636.43 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर खरीदे। एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और चीन का शंघाई सूचकांक नुकसान में रहे।

 

यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा। अमेरिकी बाजार में शुक्रवार को मिलाजुला रुख था। इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.62 प्रतिशत घटकर 78.58 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।
Edited By : Chetan Gour (भाषा)


Leave a Comment