1678346

'विनेश में ऐसा क्या है जो मुझ में नहीं', एशियाई खेलों में मिली छूट पर भड़की अंतिम पंघल (Video)

Photo of author

By jeenmediaa


मौजूदा अंडर 20 विश्व चैम्पियन Antim Panghal अंतिम पंघाल ने बुधवार को Vinesh Phogat विनेश फोगाट को Asian Games एशियाई खेलों के लिये चयन Trials ट्रायल से छूट दिये जाने पर सवाल उठाते हुए कहा कि सिर्फ वह ही नहीं बल्कि कई अन्य भारतीय पहलवान 53 किलो वर्ग में विनेश को हराने में सक्षम हैं।विनेश (53 किलो) और बजरंग पूनिया (65 किलो ) को भारतीय ओलंपिक संघ की तदर्थ समिति ने मंगलवार को एशियाई खेलों में सीधे प्रवेश देने का फैसला किया जबकि बाकी पहलवानों को 22 और 23 जुलाई को ट्रायल से गुजरना होगा।

हिसार की रहने वाली 19 वर्ष की पंघाल भी 53 किलो में उतरती हैं। उन्होंने पूछा कि इतने समय से अभ्यास नहीं करने के बावजूद विनेश का चयन कैसे हुआ।सीनियर एशियाई चैम्पियनशिप की रजत पदक विजेता पंघाल ने एक वीडियो में कहा ,‘‘ विनेश फोगाट को एशियाई खेलों में सीधे प्रवेश मिलेगा जबकि उसने पिछले एक साल से अभ्यास भी नहीं किया । पिछले एक साल में उसकी कोई उपलब्धि नहीं है।’

उसने कहा ,‘‘ पिछले साल जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में मैने स्वर्ण पदक जीता था और यह करने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनी । एशियाई चैम्पियनशिप 2023 में मैने रजत पदक जीता जबकि विनेश ने कुछ नहीं किया । वह चोटिल भी थी।’’पंघाल ने कहा ,‘‘ साक्षी मलिक ने ओलंपिक पदक जीता है लेकिन उसे भी नहीं भेजा जा रहा । विनेश में ऐसा क्या खास है जो उसे सीधे भेजा जा रहा है । ट्रायल कराइये । सिर्फ मैं ही नहीं बल्कि ऐसी कई लड़कियां हैं जो विनेश को हरा सकती हैं।’’

विनेश को पिछले साल विश्व चैम्पियनशिप में पदक जीतने के कारण एशियाई खेलों में सीधे भेजा जा रहा है। वह इस समय हंगरी के बुडापेस्ट में अभ्यास कर रही है।पंघाल ने कहा कि बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में भी उसके साथ नाइंसाफी हुई थी।

उसने कहा ,‘‘ राष्ट्रमंडल खेलों के ट्रायल में उसके खिलाफ मुकाबले में अधिकारियों ने धोखेबाजी की। मैने कहा कि कोई नहीं। मैं एशियाई खेलों के जरिये पेरिस ओलंपिक के लिये क्वालीफाई करने की कोशिश करूंगी लेकिन अब वे विनेश को भेज रहे हैं।’’

उसने कहा ,‘‘ वे यह भी कह रहे हैं कि एशियाई खेलों में जाने वाले ही विश्व चैम्पियनशिप में जायेंगे। विश्व चैम्पियनशिप में पदक जीतने वाले ओलंपिक जायेंगे। हम इतने साल से मेहनत कर रहे हैं तो हमारा क्या।’’
उसने कहा ,‘‘ क्या हमें कुश्ती छोड़ देनी चाहिये। हमें बताइये कि उसे किस आधार पर भेजा जा रहा है।’’(भाषा)


Leave a Comment