1678346

वनडे करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी खेलकर जेमीमा रोड्रीगेस ने चटकाए 4 विकेट, बांग्लादेश को सांस तक ना लेने दी

Photo of author

By jeenmediaa


INDvsBAN जेमिमा रोड्रिग्स की करियर की सर्वश्रेष्ठ 86 रन की पारी के बाद चार विकेट की मदद से भारत ने बुधवार को यहां दूसरे महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में बांग्लादेश को 108 रन से हराकर तीन मैच की श्रृंखला 1-1 से बराबर कर दी।भारत ने जेमिमा (86) और कप्तान हरमनप्रीत कौर (52) के अर्धशतक और दोनों के बीच चौथे विकेट की 91 गेंद में 73 रन की साझेदारी से आठ विकेट पर 228 रन का स्कोर खड़ा किया था।BANvsIND

इसके जवाब में बांग्लादेश की टीम फरगाना हक (81 गेंद में 47 रन) और रितु मोनी (46 गेंद में 27 रन) के बीच चौथे विकेट की 68 रन की साझेदारी से तीन विकेट पर 106 रन बनाकर अच्छी टक्कर दे रही थी। हालांकि इस साझेदारी के टूटने के बाद मेजबान टीम 35.1 ओवर में 120 रन पर सिमट गई।जेमिमा ने गेंदबाजी से भी कमाल दिखाते हुए 3.1 ओवर में तीन रन देकर चार विकेट चटकाए। लेग स्पिनर देविका वैद्य ने भी 30 रन देकर तीन विकेट हासिल किए।

रितु और फरगाना दोनों को विकेटकीपर यस्तिका भाटिया ने क्रमश: देविका और जेमिमा की गेंद पर स्टंप किया। सितंबर के बाद अपना पहला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेल रहीं तेज गेंदबाज मेघना सिंह ने सलामी बल्लेबाज मुर्शीदा खातून (12) को आउट किया।तीसरा और अंतिम एकदिवसीय शनिवार को खेला जाएगा।

हरमनप्रीत ने कहा, ‘‘यह हमारे लिए पहले बल्लेबाजी करते हुए प्रभावी स्कोर खड़ा करने का अच्छा मौका था। हमने एक बल्लेबाज के अंत तक बल्लेबाजी करने के बारे में बात की थी। जब जेमी (जेमिमा) आई तो हमने गेंद के अनुसार बल्लेबाजी की और हमारा ध्यान स्ट्राइक रोटेट करने पर था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम सपाट पिचों पर बल्लेबाजी कर रहे थे, काफी लंबे समय बाद एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले और इसलिए हम तेजी से सामंजस्य नहीं बैठा पाए। लेकिन (पहले मैच के बाद) हमने सामंजस्य बैठाने और इस तरह की पिच पर बल्लेबाजी करने को लेकर बात की।’’

इससे पहले टॉस गंवाने के बाद बल्लेबाजी करने उतरे भारत के लिए सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने 58 गेंद में 36 रन की पारी खेली लेकिन इसके बावजूद मेहमान टीम 68 रन तक तीन विकेट गंवाकर संकट में थी। जेमिमा और हरनमप्रीत ने इसके बाद पारी को संभाला। करियर की सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय पारी खेलने वाली जेमिमा ने हरलीन देओल (25) के साथ भी 55 रन की साझेदारी की। हरमनप्रीत के बाएं हाथ में दर्द के कारण रिटायर्ड हर्ट होने पर हरलीन क्रीज पर उतरी थी।

भारत जेमिमा की आक्रामक पारी की बदौलत शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में धीमी शुरुआत से उबरने में सफल रहा।जेमिमा ने 78 गेंद की अपनी पारी में नौ चौके मारे। हरमनप्रीत पारी के अंतिम ओवरों में मैदान पर उतरीं और उन्होंने अर्धशतक पूरा किया। हरमनप्रीत ने 88 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके जड़े।

इससे पहले भारतीय बल्लेबाजों को बांग्लादेश के गेंदबाजों की सटीक लाइन और लेंथ के सामने रन बनाने में परेशानी हुई।मारूफा अख्तर ने पारी के पांचवें ओवर में सलामी बल्लेबाज प्रिया पूनिया (07) को बोल्ड किया जबकि यस्तिका भाटिया (15) रन आउट हुईं।

हरमनप्रीत और स्मृति इसके बाद क्रीज पर थे। स्पिनरों को पिच से अच्छा टर्न और उछाल मिल रहा था।दोनों 66 गेंद में 28 रन की जोड़ी सकीं। रन गति बढ़ाने में प्रयास में स्मृति लेग स्पिनर राबिया खान की गेंद पर बोल्ड हो गईं जिससे भारत का स्कोर तीन विकेट पर 68 रन हो गया।

जेमिमा के आने के बाद चीजें बदलीं। जेमिमा और हरमनप्रीत ने अपनी साझेदारी के दौरान स्पिनरों के खिलाफ कदमों का अच्छा इस्तेमाल किया। भारत के रनों का शतक 28वें ओवर में पूरा हुआ।दोनों ने स्ट्राइक रोटेट करने को तरजीह दी और खराब गेंद पर बाउंड्री भी लगाई। बांग्लादेश ने अपनी गेंदबाजों से लंबे स्पैल कराके दबाव बनाया।

जेमिमा और हरमनप्रीत के बीच अर्धशतकीय साझेदारी 32वें ओवर में पूरी हुई।जेमिमा ने मारूफा पर चौके के साथ अर्धशतक पूरा किया।जेमिमा ने अंतिम पांच ओवर में पांच चौके जड़कर रन गति में इजाफा किया।(भाषा)


Leave a Comment