1678346

'मैंने ठुकराई ट्रायल्स से छूट, यह सरकार की रणनीति', साक्षी मलिक ने लगाया आरोप

Photo of author

By jeenmediaa


ओलंपिक पदक विजेता Sakshi Malik साक्षी मलिक ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने Asian Games एशियाई खेलों के ट्रायल से छूट की मांग कभी नहीं की थी हालांकि आईओए की तदर्थ समिति ने विनेश फोगाट और बजरंग पूनिया की तरह उन्हें भी इसकी पेशकश की थी।उन्होंने आरोप लगाया कि बजरंग और विनेश को ट्रायल से छूट देने की पेशकश सरकार द्वारा पहलवानों की एकता तोड़ने की कोशिश है।साक्षी, विनेश और बजरंग ने WFI के निवर्तमान अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर प्रदर्शन की अगुवाई की थी। सिंह को बृहस्पतिवार को दिल्ली की एक अदालत से जमानत मिल गई।

अमेरिका में अभ्यास कर रही साक्षी ने कहा ,‘‘ आप सभी को पता है कि हमने एशियाई खेलों की तैयारी के लिये सरकार से अतिरिक्त समय मांगा था। हमने ट्रायल दस अगस्त के बाद कराने का अनुरोध किया था। सरकार ने हमें समय भी दिया जिसके बाद हम यहां अभ्यास के लिये आये।’’उन्होंने कहा ,‘‘ पिछले तीन चार दिन में पता चला कि दो भारवर्गों में सीधे प्रवेश दिया जा रहा है।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे भी ईमेल करने के लिये कहा गया था ताकि मेरे नाम पर भी विचार हो लेकिन मैने मना कर दिया। मैं ट्रायल के बिना नहीं जाना चाहती। मैं किसी भी टूर्नामेंट में कभी ट्रायल के बिना नहीं गई और आगे भी नहीं जाऊंगी । हमने बस ट्रायल के लिये अतिरिक्त समय की मांग की थी।’’उन्होंने कहा ,‘‘ मैं इतना ही कहना चाहती हूं कि सभी को चयन का मौका मिलना चाहिये।’’इससे पहले एक ट्वीट में उन्होंने आरोप लगाया था कि सरकार ने दोनों को सीधे प्रवेश देकर पहलवानों की एकता तोड़ने की कोशिश की है।(भाषा)




Leave a Comment