1678346

'मुझे कॉल तक नहीं किया था' Yuzi Chahal ने बिना बताए RCB से बहार किये जाने पर जताया अपना दर्द

Photo of author

By jeenmediaa


Yuzvendra Chahal opens up about RCB snub : Royal Challengers Banglore (RCB) दुनिया भर में सबसे पसंदीदा और समर्थित IPL टीमों में से एक है। यह 16 वर्षों से आईपीएल में खेल रही है और इन वर्षों में इस टीम में कई दिग्गज खिलाड़ी रहे हैं जिसमे Virat Kohli, Chris Gayle और AB Devilliers भी शामिल हैं लेकिन इसके बारे में चौंकाने वाला तथ्य यह है कि इसने अभी तक एक भी आईपीएल ट्रॉफी नहीं जीती है। हर साल इस टीम के समर्थक, टीम के खिलाड़ियों से आशा करते हैं कि वे उन्हें ट्रॉफी जीता कर दिखाएंगे लेकिन हर साल यह टीम उनकी आशाओं पर पानी फेर देती है। कई बार इसके फेन्स कि Team Management को लेकर यह शिकायत रहती है कि वे टीम में सही खिलाड़ी नहीं चुनना जानती।

 2022 में जब लोकप्रिय गेंदबाज Yuzvendra Chahal को रिलीज़ किया गया था तब भी टीम मैनेजमेंट को लेकर बड़े सवाल खड़े हुए थे। आईपीएल 2022  नीलामी (IPL 2022 mega auction) के दौरान उनपर कोई दाव नहीं लगाया गया था और Rajasthan Royals ने मेगा ऑक्शन में उन्हें 6.5 करोड़ रुपये में खरीदा था। 

हाल ही में Youtuber Ranveer Allahbadia के साथ एक Podcast के दौरान, स्टार गेंदबाज Yuzvendra Chahal ने 8 साल तक RCB के साथ रहने के बाद टीम द्वारा उन्हें रिलीज करने पर खुलकर बात की और टीम के प्रति अपनी निराशा व्यक्त कर कहा 'मुझे वास्तव में जो बात बुरी लगी वह यह थी कि कोई फ़ोन कॉल नहीं था, कोई कम्युनिकेशन नहीं था। कम से कम बात तो करो। मैंने उनके लिए 114 मैच खेले हैं, उन्होंने मुझसे वादा किया था कि वे मेरे लिए हर संभव कोशिश करेंगे। मैंने कहा ठीक है। जब मुझे ऑक्शन में नहीं चुना गया तो मुझे बहुत गुस्सा आया। मैंने उन्हें 8 साल दिए हैं। चिन्नास्वामी मेरा पसंदीदा मैदान था। मैंने आरसीबी के कोचों से बात नहीं की। मैं उसके उनके खिलाफ खेला, लेकिन मैंने किसी से बात नहीं की।'

 

Yuzvendra Chahal 2014 सीज़न से आरसीबी के प्रमुख सदस्य रहे हैं, उन्होंने 114 मैचों में आरसीबी के लिए अद्भुत स्ट्राइक रेट के साथ 139

Wkts विकेट लिए हैं। Chinnaswami Stadium जहाँ बाउंड्री छोटी होती हैं वहां भी कठिन परिस्तिथियों में उन्होंने RCB को विकेट निकाल कर दिए हैं। 

2022 के ऑक्शन में राजस्थान रॉयल्स ने युजवेंद्र चहल को खरीदा था। उन्होंने उस सीजन में सबसे ज्यादा (27) विकेट लिए थे और पर्पल कैप जीता था। RCB के द्वारा उन्हें अचानक रिलीज़ किया जाना उनके और टीम के फेन्स, दोनों के लिए चौकाने वाला पल था।

 उन्होंने इस विषय पर अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा “मुझे निश्चित रूप से बहुत बुरा लगा। 2014 में मेरी यात्रा शुरू हुई। पहले मैच से, विराट कोहली ने मुझ पर भरोसा दिखाया। लेकिन, यह (फैसले पर) बुरा लग रहा है क्योंकि मैं आठ साल से फ्रेंचाइजी के लिए खेल रहा था। मैंने लोगों को यह कहते हुए सुना कि 'यूजी ने बहुत सारे पैसे मांगे होंगे' और ऐसी ही चीजें। इसीलिए मैंने स्पष्ट किया कि मैंने कुछ भी नहीं मांगा। मुझे पता है कि मैं कितना योग्य हूं। सबसे बुरी बात यह है कि मैंने कुछ नहीं मांगा फिर भी आरसीबी से एक तक फोन आया। उन्होंने मुझे कुछ भी नहीं बताया।”




Leave a Comment