1678346

भारत के खिलाफ पहली T20I जीत दिलाने वाला यह पाक ऑलराउंडर बन सकता है मुख्य चयनकर्ता

Photo of author

By jeenmediaa


पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और आल राउंडर Mohammad Hafeez मोहम्मद हफीज राष्ट्रीय टीम के मुख्य चयनकर्ता बनने की दौड़ में सबसे आगे चल रहे हैं।श्रीलंका के मौजूदा दौरे के समाप्त होने के बाद उन्हें मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया जा सकता है।सूत्रों की मानें तो हफीज पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की क्रिकेट प्रबंधन समिति के नये चेयरमैन जका अशरफ ने उन्हें मुख्य चयनकर्ता नियुक्त करना चाहते हैं, यह पद जून से खाली पड़ा है।

सूत्र ने कहा, ‘‘जका ने पूर्व कप्तान राशिद लतीफ और हफीज से मुलाकात की और उनसे मुख्य चनकर्ता बनने के बारे में बात की। राशिद इस पद पर काबिज होने के इच्छुक नहीं थे लेकिन हफीज ने इस पद के लिए अपनी उपलब्धता जाहिर की थी। ’’

सूत्र ने कहा, ‘‘राशिद भ्रष्टाचार रोधी मुद्दों पर काम करने में ज्यादा इच्छुक थे। उन्होंने स्पष्ट किया कि वह मुख्य चयनकर्ता के तौर पर काम करने की चुनौती लेना पसंद करेंगे। ’’

ऐसा रहा है करियर

हफीज ने अपने देश की तरफ से 55 टेस्ट, 218 वनडे और 119 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने 3 वनडे विश्व कप और 6 टी20 विश्व कप में भी पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया।

उन्होंने 2003 में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे मैच के जरिये अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया। उनका आखिरी मैच नवंबर में टी20 विश्व कप 2021 का सेमीफाइनल था जिसमें पाकिस्तान को आस्ट्रेलिया से हार का सामना करना पड़ा था।इस 41 वर्षीय खिलाड़ी ने 2018 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।हफीज ने पाकिस्तान की तरफ से 392 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जिसमें 12,789 रन बनाये और 253 विकेट लिये।

अपने सफल करियर के दौरान उन्हें 32 बार मैच का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया तथा सर्वाधिक बार ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ पुरस्कार पाने वाले पाकिस्तानी खिलाड़ियों में वह शाहिद अफरीदी (43), वसीम अकरम (39) और इंजमाम उल हक (33) के बाद चौथे स्थान पर हैं।

भारत के खिलाफ पहली टी-20 अंतरराष्ट्रीय जीत के थे नायक

दिलचस्प बात यह है कि मोहम्मद हफीज ही वह खिलाड़ी थे जिनके कारण पाकिस्तान को भारत पर पहली टी-20 जीत मिली थी। हफीज ने दिसंबर 2012 में भारत के खिलाफ गेंदबाजी में किफायती 2 ओवरों में 12 रन दिए और फिर बल्ले से 44 गेंदो में 6 चौके और 2 छक्कों की मदद से 61 रन बनाए। इस पारी के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच भी मिला था।

इसके अलावा उन्हें नौ बार श्रृंखला में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया। वह 2017 में आईसीसी चैंपियन्स ट्राफी जीतने वाली पाकिस्तानी टीम का हिस्सा थे।


Leave a Comment