बूडापेस्ट में जीता कांस्य संगीता फोगाट ने समर्पित किया प्रदर्शन में बैठे साथियों को

Photo of author

By jeenmediaa


Wrestling Federation of India भारतीय कुश्ती महासंघ के निवर्तमान प्रमुख BBS बृजभूषण शरण सिंह के विरोध में शामिल रहे छह प्रमुख पहलवानों में से एक Sangeeta Phogat संगीता फोगट ने हंगरी में रैंकिंग सीरीज प्रतियोगिता में जीते गये अपने कांस्य पदक को महिलाओं के खिलाफ अपराध से लड़ रहे लोगों को समर्पित किया हैं।

संगीता और उनके पति बजरंग पुनिया बृजभूषण के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर लगभग एक महीने तक चले धरने में शामिल थे। बृजभूषण के खिलाफ कई महिला पहलवानों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं।संगीता को इस आयोजन की तैयारी के लिए काफी कम समय मिला था और इस पदक से निश्चित रूप से उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा।

संगीता ने ट्वीट किया, ‘‘आप सभी के बधाई संदेश मुझ तक पहुंच रहे हैं, मैं इस पल पर बहुत भावुक हूं। आप सभी को बहुत-बहुत शुक्रिया। यह पदक सिर्फ मेरा नहीं है। यह आप सभी का पदक है।’’उन्होंने लिखा, ‘‘ मैं इस पदक को दुनिया की उन सभी संघर्षशील महिलाओं को समर्पित करती हूँ जो महिलाओं के विरुद्ध हुए अपराधों के खिलाफ संघर्षरत हैं। जय हिन्द।’’

संगीता ने शनिवार को बुडापेस्ट में हंगरी रैंकिंग सीरीज टूर्नामेंट में गैर-ओलंपिक 59 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक जीता। इस स्पर्धा में छह पहलवान शामिल थे।संगीता ने कांस्य पदक प्ले-ऑफ मुकाबले में अंडर-20 विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता हंगरी की युवा विक्टोरिया बोरसोस को 6-2 से हराया।

संगीता ने हंगरी रैंकिंग सीरीज कुश्ती स्पर्धा में कांस्य पदक जीता

भारतीय पहलवान संगीता फोगाट ने हंगरी रैंकिंग सीरीज टूर्नामेंट में गैर ओलंपिक 59 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक अपने नाम किया।

संगीता उन छह प्रदर्शन करने वाले पहलवानों में शामिल थीं जो भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के निवर्तमान अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

संगीता को पहले हार मिली लेकिन फिर उन्होंने दूसरे मुकाबले में वापसी करते हुए जीत हासिल की। वह सेमीफाइनल हार गयी लेकिन हंगरी की युवा पहलवान विक्टोरिया बोरसोस के खिलाफ कांस्य पदक के प्लेऑफ में 6-2 से जीत दर्ज करने में सफल रहीं।संगीता ने पिछले साल 62 किग्रा वर्ग में राष्ट्रीय चैम्पियनशिप जीती थी। (भाषा)


Leave a Comment