1678346

पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी और मिस्बाह उल हक ने वनडे विश्वकप में टीम के भारत जाने पर रखी यह राय

Photo of author

By jeenmediaa


Pakistan cricket पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेट कप्तान मिस्बाह उल हक Misbah Ul Haq और शाहिद अफरीदी Shahid Afridi ने अपने देश की टीम को भारत में एकदिवसीय विश्व कप में प्रतिस्पर्धा करने की अनुमति देने की वकालत करते हुए कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो यह ‘प्रशंसकों’ के साथ नाइंसाफी होगी जो चिर प्रतिद्वंद्वी भारत के खिलाफ मैच नहीं देख पायेंगे।

49 साल के पूर्व कोच  मिस्बाह उल हक ने एक समारोह में कहा, ‘‘ दोनों देश जब अन्य खेलों में एक-दूसरे का सामना कर सकते है तो क्रिकेट में क्यों नहीं। क्रिकेट को राजनीतिक संबंधों से क्यों जोड़ा जाए? लोगों को अपनी टीमों को एक-दूसरे के खिलाफ खेलते देखने के मौके से वंचित करना अनुचित है।’’

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 11,000 से अधिक रन बनाने वाले इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘‘यह उन प्रशंसकों के साथ बहुत बड़ा अन्याय होगा जो पाकिस्तान और भारतीय क्रिकेट को बहुत पसंद करते हैं।’’
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने हाल ही में आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) और बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) को बताया कि दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों के कारण इस साल अक्टूबर-नवंबर में विश्व कप में राष्ट्रीय टीम की भागीदारी सरकार के मंजूरी के अधीन है।

भारत ने पाकिस्तान में एशिया कप के मैचों को खेलने से मना कर दिया जिसके बाद इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट का आयोजन ‘हाईब्रिड’ आधार पर हो रहा। 31 अगस्त से 17 सितंबर तक होने वाले टूर्नामेंट के चार मैच पाकिस्तान और नौ मैच तटस्थ स्थल श्रीलंका में होंगे।मिस्बाह का मानना है कि अब समय आ गया है कि पाकिस्तान को भारत जाना चाहिए और भारतीय टीम को भी मैच खेलने के लिए पाकिस्तान आना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘ निश्चित तौर पर पाकिस्तान को भारत में विश्व कप खेलना चाहिए। मैंने जितनी बार भी भारत में खेला है, हमने वहां दबाव और दर्शकों की भीड़ का आनंद लिया है। इससे आपको प्रेरणा मिलती है और भारत की परिस्थितियां हमारे अनुकूल होती हैं। हमारी टीम भारतीय परिस्थितियों में अच्छा प्रदर्शन करने की क्षमता रखती है।’’

अफरीदी को भी लगता है कि पाकिस्तान को विश्व कप के लिए भारत जाना चाहिए। आखिरी बार भारत में वनडे विश्वकप में शिकस्त खाने वाल पूर्व पाक कप्तान अफरीदी ने कहा, ‘‘मेरे लिए या किसी भी पेशेवर क्रिकेटर के लिए सबसे बड़ी चुनौती भारत में खेलने और वहां भारतीय दर्शकों के सामने अच्छा प्रदर्शन करने से दबाव से निपटना है।

इस पूर्व हरफनमौला ने कहा, ‘‘ कुल मिलाकर हमने भारत में खेलने का लुत्फ उठाया है क्योंकि अगर आप भारत में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो आपको एक अलग स्तर की संतुष्टि और पहचान मिलती है।’’

इस पूर्व कप्तान ने कहा कि पाकिस्तान को विश्व कप मैचों के लिए अच्छे स्थल मिले हैं और टीम के लिए उचित योजना बनाना जरूरी होगा।उन्होंने कहा, ‘‘ हमारी टीम काफी अच्छी है। टीम में कुछ शानदार प्रतिभाएं भी है। मुझे कोई कारण नहीं दिखता कि हम भारत जाकर अहमदाबाद या किसी और स्थल पर अच्छा प्रदर्शन नहीं करें।’’


Leave a Comment